Dattatreya Stotram PDF Download

Dattatreya Stotram Pdf Download|श्री दत्तात्रेय स्तोत्र PDF: Here provided the download link of the Dattatreya stotram in Hindi pdf| श्री दत्तात्रेय हिंदी pdf download.

You can easily shri dattatreya stotram pdf download here.

Shri Dattatreya Stotram pdf Download|श्री दत्तात्रेय स्तोत्र PDF

दत्तात्रेय स्तोत्र के बारे में जानने से पहले, आइए भगवान दत्तात्रेय के बारे में थोड़ा जान लेते हैं.

भगवान दत्तात्रेय शीघ्र कृपा करने वाले साक्षात् देव की मूर्ति कहे जाते है इनके पिता अत्रि ऋषि और माता अनसूया थी.

और इस अवतार में भगवानने तीन मुख रखे परम भक्त वत्सल दत्तात्रेय अपने भक्त के समरण करते ही तुरंत पहोच जाते थे इसीलिए इन्हे सुनितीगामी कहे जाते है.

दत्तात्रेय विद्या के परम आचार्य है और भगवान नारायण के अवतारों में इन्होने भी श्री कृष्णा की तरह ही सुदर्शनचक्र धारण किया था.

कही कही भगवान दत्तात्रेय जी को भगवान ब्रह्मा , विष्णु और महेश का संयुक्त अंशअवतार भी माना गया है.

नारद मुनि द्वारा रचित दत्तात्रेय स्तोत्र नारद मुनि वैकुंठ के स्थायी सदस्य हैं, दत्तात्रेय स्तोत्र का पाठ करने से शत्रुओं और पापों का नाश होता है.

Dattatreya stotram in Lyrics Hindi pdf

जटाधरं पाण्डुरंगं शूलहस्तं दयानिधिम्।
सर्वरोगहरं देवं दत्तात्रेयमहं भजे ॥१॥

जगदुत्पत्तिकर्त्रे च स्थितिसंहारहेतवे।
भवपाशविमुक्ताय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥२॥

जराजन्मविनाशाय देहशुद्धिकराय च।
दिगंबर दयामूर्ते दत्तात्रेय नमोस्तुते॥३॥

कर्पूरकान्तिदेहाय ब्रह्ममूर्तिधराय च।
वेदशास्स्त्रपरिज्ञाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥४॥

ह्रस्वदीर्घकृशस्थूलनामगोत्रविवर्जित!
पञ्चभूतैकदीप्ताय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥५॥

यज्ञभोक्त्रे च यज्ञेय यज्ञरूपधराय च।
यज्ञप्रियाय सिद्धाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥६॥

आदौ ब्रह्मा मध्ये विष्णुरन्ते देवः सदाशिवः।
मूर्तित्रयस्वरूपाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥७॥

भोगालयाय भोगाय योगयोग्याय धारिणे।
जितेन्द्रिय जितज्ञाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥८॥

दिगंबराय दिव्याय दिव्यरूपधराय च।
सदोदितपरब्रह्म दत्तात्रेय नमोस्तुते॥९॥

जंबूद्वीप महाक्षेत्र मातापुरनिवासिने।
भजमान सतां देव दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१०॥

भिक्षाटनं गृहे ग्रामे पात्रं हेममयं करे।
नानास्वादमयी भिक्षा दत्तात्रेय नमोस्तुते॥११॥

ब्रह्मज्ञानमयी मुद्रा वस्त्रे चाकाशभूतले।
प्रज्ञानघनबोधाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१२॥

अवधूत सदानन्द परब्रह्मस्वरूपिणे ।
विदेह देहरूपाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१३॥

सत्यरूप! सदाचार! सत्यधर्मपरायण!
सत्याश्रय परोक्षाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१४॥

शूलहस्त! गदापाणे! वनमाला सुकन्धर!।
यज्ञसूत्रधर ब्रह्मन् दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१५॥

क्षराक्षरस्वरूपाय परात्परतराय च।
दत्तमुक्तिपरस्तोत्र! दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१६॥

दत्तविद्याड्यलक्ष्मीश दत्तस्वात्मस्वरूपिणे।
गुणनिर्गुणरूपाय दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१७॥

शत्रुनाशकरं स्तोत्रं ज्ञानविज्ञानदायकम्।
आश्च सर्वपापं शमं याति दत्तात्रेय नमोस्तुते॥१८॥

इदं स्तोत्रं महद्दिव्यं दत्तप्रत्यक्षकारकम्।
दत्तात्रेयप्रसादाच्च नारदेन प्रकीर्तितम् ॥१९॥

इति श्रीनारदपुराणे नारदविरचितं
श्रीदत्तात्रेय स्तोत्रं संपुर्णमं।।

।। श्रीगुरुदेव दत्त ।।

Dattatreya stotram in Hindi pdf| श्री दत्तात्रेय हिंदी pdf

Leave a Comment