Hanuman Chalisa PDF| हनुमान चालीसा PDF

Shri Hanuman Chalisa PDF Download |हनुमान चालीसा हिंदी में pdf: Here provided the download link of the Hanuman Chalisa in Hindi pdf|हनुमान चालीसा हिंदी में pdf download.

You can easily pdf hanuman chalisa hindi pdf |सम्पूर्ण हनुमान चालीसा डाउनलोड pdf here.

so we have put the Shri Hanuman Chalisa pdf in Hindi |हनुमान चालीसा हिंदी में पीडीएफ डाउनलोड ​​on our website and also provided a pdf Hanuman Chalisa in Hindi|हनुमान चालीसा इन हिंदी पीडीएफ which you can download.

Here you will find a Shree hanuman chalisa pdf hindi |हनुमान चालीसा pdf, We have given their download link in the table below so you can go there and download it.

Shree Hanuman Chalisa PDF Download |हनुमान चालीसा पाठ हिंदी मै pdf

हनुमान जी का नाम किसी ने नहीं सुना, ऐसा नहीं हो सकता। इसे संकटमोचन बजरंग बली के नाम से जाना जाता है, जी हां हो सकता है कि कोई इस पर विश्वास करे या न करे, लेकिन यह तो सभी जानते हैं।

तुलसीदास गोस्वामी हनुमान चालीसा के लेखक हैं और वे श्री राम के भक्त भी थे और हनुमान को बहुत मानते थे, हनुमान चालीसा में 40 श्लोक हैं.

इसलिए इसे चालीसा कहा जाता है। भय, कठिनाई, संकट के समय हनुमान चालीसा का पाठ करने से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं.

हनुमान चालीसा में बजरंगबली स्मृति इस प्रकार है कि यह न केवल आपको तनाव से मुक्ति दिलाती है बल्कि आप में आत्मविश्वास भी लाती है, रामायण के समय जब हनुमान लंका पहुंचे तो उन्होंने शनि देव को उल्टा लटका हुआ देखा.

जब हनुमान जी ने इसका कारण पूछा तो शनि देव ने कहा कि “रावण ने मुझे अपने बल से कैद कर लिया है”। तभी पवनपुत्र हनुमान जी ने शनि देव को रावण के कारागार से मुक्त कराया तब शनि देव ने हनुमान से वरदान मांगने को कहा तो बजरंग बलि ने कहा, ”कलयुग में मेरी पूजा करने वालों को अशुभ फल नहीं मिलेगा” तभी से शनिवार को हनुमान जी की पूजा की जाती है.

हनुमान चालीसा पढ़ने के फायदे

गोस्वामी तुलसीदास जी के बारे में कहा जाता है कि बजरंगबली अष्ट सिद्धि और नवनिधि के दाता हैं। जो कोई भी नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करता है, उसके जीवन में हर मनोकामना पूरी होती है, भले ही वह धन से संबंधित हो, जब भी आप किसी आर्थिक संकट का सामना करते हैं, तो आपको अपने मन में हनुमान जी का ध्यान कर के हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए ताकि आपके सभी कष्ट दूर हो सकें.

और कुछ ही समय में आप समस्या का समाधान करते हैं और वित्तीय चिंताओं से छुटकारा पाते हैं, और यदि आप इस क्रम को मंगलवार से शुरू करते हैं, तो बेहतर है.

तुलसीदास गोस्वामी को कहा जाता है कि बजरंग बली अष्ट सिद्धि और नवनिधि के दाता हैं। जो कोई भी नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करता है, उसके जीवन में हर मनोकामना पूरी होती है, भले ही वह धन से संबंधित हो.

जब भी आप पर कोई आर्थिक संकट आए तो आप अपने मन में हनुमान जी का ध्यान रखते हुए हनुमान चालीसा का पाठ करें जिससे आपके सभी कष्ट दूर हो सकें, और कुछ ही समय में आप समस्या का समाधान कर सकें और आर्थिक चिंताओं से छुटकारा पा सकें, और यदि आप यह क्रम मंगलवार से शुरू करें तो बेहतर है.

हनुमान चालीसा हिंदी अनुवाद pdf में हनुमान चालीसा का एक और दोहा है “भूत पिसाच निकत नहीं आवे। महाबीर जब नाम सुनावे”। इस दोहे में कहा गया है कि जो व्यक्ति नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करता है, उसके चारों ओर भूत या नकारात्मक ऊर्जा नहीं होती है।

Pdf हनुमान चालीसा|हनुमान चालीसा पाठ pdf से हनुमान चालीसा का नियमित पाठ करने से उनका मनोबल बढ़ता है और उन्हें किसी प्रकार का भय नहीं होता है.

यदि किसी को किसी अज्ञात भय का भय हो तो वह प्रत्येक रात्रि विश्राम करने से पूर्व हाथ-पैर धोकर पवित्र मन से हनुमान चालीसा का पाठ करने लगे, उन्हें अवश्य ही स्वास्थ्य लाभ होगा, हनुमान चालीसा में लिखा है कि नसे रोग हरे सब पीरा, जपत निरंतर हनुमंत बीरा”.

मानव जीवन का अंतिम लक्ष्य मोक्ष माना गया है, अर्थात शरीर त्याग कर अंतिम धाम में स्थान, हनुमान चालीसा में बताया गया है कि जो व्यक्ति नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करता है, उसकी परम पावन की राह आसान हो जाती है.

बजरंग बली श्री राम के प्रबल भक्त हैं, शास्त्रों के अनुसार बजरंग बली को माता सीता के वरदान के प्रभाव से अमर बताया गया है, ऐसा माना जाता है कि आज भी जब रामचरितमानस या रामायण, सुंदर कांड का पाठ पूरी श्रद्धा के साथ किया जाता है, हनुमानजी अवश्य प्रकट हों, उनकी पूजा करने के लिए बड़ी संख्या में भक्त हनुमान चालीसा का पाठ भी करते हैं.

यदि कोई व्यक्ति पूरी हनुमान चालीसा का पाठ नहीं करता है या नहीं कर पाता है, तो वह अपनी इच्छानुसार कुछ पंक्तियों का जाप भी कर सकता है.

जैसे श्री हनुमान चालीसा pdf, दुर्गा चालीसा, शिव चालीसा, सूर्य चालीसा। इन पंक्तियों में 40 दोहे क्यों हैं, इसका धार्मिक दृष्टिकोण यह है कि ये चालीस पंक्तियाँ संबंधित देवताओं के चरित्र, शक्ति और महिमा का वर्णन करती हैं.

हनुमान चालीसा का पाठ करने की विधि

हनुमान चालीसा का पाठ करने की सच्ची विधि की बात करें तो यदि आप सुबह-सुबह हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं, तो अपना मुंह पूर्व की ओर रखें और यदि आप रात में हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं, तो अपना मुंह पश्चिम की ओर रखें और चालीसा का पाठ करें.

जब भी आप हनुमान चालीसा पीडीएफ का पाठ करने बैठें तो उसे हनुमानजी की मूर्ति के सामने रखें और अपने सामने जल से भरा पात्र रखें.

जब आप हनुमान चालीसा lyrics in hindi pdf|हनुमान चालीसा पीडीएफ फाइल का पाठ समाप्त कर लें तो उस जल को प्रसाद के रूप में लें.

Hanuman Chalisa Lyrics In Hindi PDF|Hanuman chalisa pdf download hindi

दोहा

श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि ।
बरनउँ रघुबर बिमल जसु जो दायकु फल चारि ॥

बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन कुमार
बल बुधि विद्या देहु मोहि, हरहु कलेश विकार

चौपाई

जय हनुमान ज्ञान गुन सागर
जय कपीस तिहुँ लोक उजागर॥१॥

राम दूत अतुलित बल धामा
अंजनि पुत्र पवनसुत नामा॥२॥

महाबीर बिक्रम बजरंगी
कुमति निवार सुमति के संगी॥३॥

कंचन बरन बिराज सुबेसा
कानन कुंडल कुँचित केसा॥४॥

हाथ बज्र अरु ध्वजा बिराजे
काँधे मूँज जनेऊ साजे॥५॥

शंकर सुवन केसरी नंदन
तेज प्रताप महा जगवंदन॥६॥

विद्यावान गुनी अति चातुर
राम काज करिबे को आतुर॥७॥

प्रभु चरित्र सुनिबे को रसिया
राम लखन सीता मनबसिया॥८॥

सूक्ष्म रूप धरि सियहि दिखावा
विकट रूप धरि लंक जरावा॥९॥

भीम रूप धरि असुर सँहारे
रामचंद्र के काज सवाँरे॥१०॥

लाय सजीवन लखन जियाए
श्री रघुबीर हरषि उर लाए॥११॥

रघुपति कीन्ही बहुत बड़ाई
तुम मम प्रिय भरत-हि सम भाई॥१२॥

सहस बदन तुम्हरो जस गावै
अस कहि श्रीपति कंठ लगावै॥१३॥

सनकादिक ब्रह्मादि मुनीसा
नारद सारद सहित अहीसा॥१४॥

जम कुबेर दिगपाल जहाँ ते
कवि कोविद कहि सके कहाँ ते॥१५॥

तुम उपकार सुग्रीवहि कीन्हा
राम मिलाय राज पद दीन्हा॥१६॥

तुम्हरो मंत्र बिभीषण माना
लंकेश्वर भये सब जग जाना॥१७॥

जुग सहस्त्र जोजन पर भानू
लिल्यो ताहि मधुर फ़ल जानू॥१८॥

प्रभु मुद्रिका मेलि मुख माही
जलधि लाँघि गए अचरज नाही॥१९॥

दुर्गम काज जगत के जेते
सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते॥२०॥

राम दुआरे तुम रखवारे
होत ना आज्ञा बिनु पैसारे॥२१॥

सब सुख लहैं तुम्हारी सरना
तुम रक्षक काहु को डरना॥२२॥

आपन तेज सम्हारो आपै
तीनों लोक हाँक तै कापै॥२३॥

भूत पिशाच निकट नहि आवै
महावीर जब नाम सुनावै॥२४॥

नासै रोग हरे सब पीरा
जपत निरंतर हनुमत बीरा॥२५॥

संकट तै हनुमान छुडावै
मन क्रम वचन ध्यान जो लावै॥२६॥

सब पर राम तपस्वी राजा
तिनके काज सकल तुम साजा॥२७॥

और मनोरथ जो कोई लावै
सोई अमित जीवन फल पावै॥२८॥

चारों जुग परताप तुम्हारा
है परसिद्ध जगत उजियारा॥२९॥

साधु संत के तुम रखवारे
असुर निकंदन राम दुलारे॥३०॥

अष्ट सिद्धि नौ निधि के दाता
अस बर दीन जानकी माता॥३१॥

राम रसायन तुम्हरे पासा
सदा रहो रघुपति के दासा॥३२॥

तुम्हरे भजन राम को पावै
जनम जनम के दुख बिसरावै॥३३॥

अंतकाल रघुवरपुर जाई
जहाँ जन्म हरिभक्त कहाई॥३४॥

और देवता चित्त ना धरई
हनुमत सेई सर्व सुख करई॥३५॥

संकट कटै मिटै सब पीरा
जो सुमिरै हनुमत बलबीरा॥३६॥

जै जै जै हनुमान गुसाईँ
कृपा करहु गुरु देव की नाई॥३७॥

जो सत बार पाठ कर कोई
छूटहि बंदि महा सुख होई॥३८॥

जो यह पढ़े हनुमान चालीसा
होय सिद्ध साखी गौरीसा॥३९॥

तुलसीदास सदा हरि चेरा
कीजै नाथ हृदय मह डेरा॥४०॥

दोहा

पवन तनय संकट हरन, मंगल मूरति रूप।
राम लखन सीता सहित, हृदय बसहु सुर भूप॥

Gita Press Hanuman Chalisa PDF Download

Download

Related articles:

Other Articles

Hanuman chalisa lyrics pdf |हनुमान चालीसा हिंदी में pdf download

Hanuman Chalisa Gita Press PDF Download: Here we have provided the download link of Gita Press Hanuman Chalisa PDF Hindi. The author of this book is Gita Press, and hanuman Chalisa in pdf Language is Hindi. You can easily Hanuman Chalisa Gita Press PDF Download And read online here.

Hanuman Chalisa download pdf is very useful for those who are reading Hanuman Chalisa every day. If Hanuman Ji is worshiped then this book is very good for him because those who are devotees of Hanuman are reading Hanuman Chalisa every day and they like this book very easily. Can be taken there.

Gita press Hanuman Chalisa Hindi PDF |download hanuman chalisa pdf

Disclaimer:

We provide links to all the materials of the Hanuman Chalisa Geeta press Gorakhpur pdf|Hanuman Chalisa PDF Gita Press that was already on the internet. We have provided Hanuman Chalisa in Hindi pdf gita press|Hanuman Chalisa PDF Free Download links to help students who cannot afford it financially. Links to Hanuman Chalisa book PDF are for educational purposes only, If anyone has any problem, kindly please contact us.

Shri Hanuman chalisa hindi pdf download Overview

Book Name Hanuman Chalisa Gita
Press PDF
Author Gita Press
LanguageHindi
Pages32

जो भी लोग श्री हनुमान चालीसा pdf | हनुमान चालीसा गीता प्रेस गोरखपुर pdf को हिंदी भाषा में प्राप्त करना चाहते हैं या हनुमान चालीसा पाठ हिंदी मै pdf download|हनुमान चालीसा pdf डाउनलोड करने के लिए और हनुमान चालीसा हिंदी में पीडीफ पढ़ने के लिए, वे आसानी से हनुमान चालीसा पाठ हिंदी मै पीडीऍफ़ डाउनलोड कर सकते हैं, आपको पोस्ट के बीच में एक टेबल दी जाएगी जिसमें हनुमान चालीसा हिंदी पीडीएफ डाउनलोड लिंक होगा.

Jo Bhi Log full pdf hanuman chalisa|Shri hanuman Chalisa pdf file ko hindi mein prapt karna chahate hai ya Hindi pdf hanuman chalisa |हनुमान चालीसा pdf file download karne ke liye aur full pdf hanuman Chalisa padhne ke liye ve aasani se hanuman chalisa lyrics in hindi pdf download|Hanuman Chalisa in Hindi lyrics pdf download kar shakte hai, aap sabhi ko is article ke bich me Ek table di jayegi jisme aap hanuman chalisa in hindi pdf download Kar skate ho.

You must share the हनुमान चालीसा पाठ डाउनलोड|Hanuman Chalisa lyrics pdf download page to your friend’s circle and all your family members so that people can also take advantage of downloading Hanuman Chalisa pdf from हनुमान चालीसा pdf download |Hanuman Chalisa pdf download in Hindi page.